Violence After Namaz

Violence After Namaz: नूपुर शर्मा के दुआरा पैगामबार पर विवादित टिप्पणी के बाद देखते हैँ कहाँ क्या हुआ पैगम्बर मोहम्मद पर विवादित टिप्पणी को लेकर शुक्रवार को कई शहरों में बवाल हुआ। इस दौरान प्रदर्शन, हिंसा, पत्थरबाजी और आगजनी की भी घटनाएं हुईं।

उत्तर प्रदेश के प्रयागराज, झारखंड के रांची और पश्चिम बंगाल के हावड़ा में सबसे ज्यादा बवाल हुआ। प्रयागराज में उपद्रवियों के पथराव और आगजनी में आईजी समेत 18 पुलिसकर्मी घायल हुए हैं। एसएसपी और डीएम को भी चोट आई। झारखंड की राजधानी रांची में हिंसा में 25 लोग घायल हुए हैं। यहां पुलिस की गोली से दो उपद्रवियों की मौत भी हुई है। पूरे शहर में कर्फ्यू लगा दिया गया है। हावड़ा में शुक्रवार को शुरू हुआ बवाल शनिवार को भी जारी है। यहां उपद्रवियों के पथराव में 15 से ज्यादा पुलिसकर्मी घायल हुए हैं।

इन घटनाओं के बाद पुलिस एक्शन में है। जहां-जहां उपद्रव हुए हैं, वहां पुलिस ने कार्रवाई तेज कर दी है। देखते हैँ किस राज्य मैं कितने पुलिस वाले घायल हुये हैँ और कितने उपादरवी गिरफ्तार हुये हैँ

Uttarpardesh : शुक्रवार को सबसे ज्यादा उपद्रव उत्तर प्रदेश के अलग-अलग शहरों में देखने को मिला। जिन शहरों में हिंसक प्रदर्शन हुए उनमें प्रयागराज, सहारनपुर, मुदारबाद, हाथरस, अम्बेडकरनगर और फिरोजाबाद शामिल हैं। हिंसा के बाद राज्य की पुलिस एक्शन में है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी इन घटनाओं को लेकर सख्त कार्रवाई के निर्देश दिए हैं। राज्य के अलग-अलग जिलों में अब तक 300 से ज्यादा उपद्रवी पकड़े जा चुके हैं।

प्रयागराज से 80, हाथरस से 55, फिरोजाबाद से आठ, अंबेडकरनगर से 28 उपद्रवियों को गिरफ्तार किया जा चुका है। पांच हजार से ज्यादा अज्ञात उपद्रवियों पर एफआईआर दर्ज हुई है। इनकी पहचान के लिए सीसीटीवी फुटेज, वीडियो और फोटो से की जा रही है। प्रयागराज हिंसा का मास्टरमाइंड मुहम्मद जावेद भी पकड़ा जा चुका है। कहा जा रहा है कि कई उपद्रवियों के घर पर बुलडोजर भी चलेगा। तीन जून को कानपुर में हुई हिंसा के मामले में इस तरह की कार्रवाई की शुरुआत भी हो चुकी है। यहां हिंसा के मुख्य आरोपी जफर हयात के करीबी मोहम्मद इश्तियाक की अवैध इमारत पर बुलडोजर चला।

Jharkhand: यहां की राजधानी रांची में सबसे हिंसक प्रदर्शन हुआ। इसमें दो लोगों की जान भी गई है। 25 लोग घायल हुए हैं। शहर के 12 थाना क्षेत्रों में कर्फ्यू है। बाकी शहर में धारा 144 लगा दी गई है। लोगों को घर से बाहर नहीं निकलने के लिए कहा गया है। घर से निकलने वालों को तुरंत गिरफ्तार करने का आदेश है। अब तक 20 उपद्रवियों को गिरफ्तार किया जा चुका है। मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की है। कल तक इंटरनेट सेवाएं बंद कर दी गईं हैं।

Delhi: जामा मस्जिद के बाहर बिना अनुमति के प्रदर्शन करने के मामले में पुलिस ने एफआईआर दर्ज कर ली है। डीसीपी सेंट्रल डिस्ट्रिक्ट श्वेता चौहान ने कहा कि मामला दर्ज करके प्रदर्शनकारियों की पहचान की जा रही है। हालांकि, यहां पर किसी तरह की हिंसा का मामला सामने नहीं आया था। इसके अलावा तेलंगाना, उत्तराखंड, मध्य प्रदेश समेत कई राज्यों में अलग-अलग शहरों में बवाल के मामले सामने आए हैं।